Browsing History और Browser Cache क्या है ?

आप इंटरनेट चलाते वक़्त किसी वेबसाइट को ओपन करने के लिये या किसी वेब पेज पर पहुंचने के लिये जिस सॉफ्टवेयर ऐप का इस्तेमाल करते है उसे वेब ब्राउज़र कहते है। जैसे - Google Chrome,Opera,UC,Mozilla Firefox आदि वेब ब्राउज़र ही होते है।

लेकिन क्या आप वेब ब्राउज़र में 'ब्राउज़िंग हिस्ट्री' और 'ब्राउज़र कैशे' नामक इन दोनों शब्दों के बारे में जानते हैं। Browsing History और Browsing Cache का क्या मतलब है ? और यह किसी वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल करके वाले यूजर को किस प्रकार से प्रभावित कर सकते है ? इसकी जानकारी बहुत से लोगों को नहीं है।


लेकिन आज की इस पोस्ट के माध्यम से हम Browsing History और Browsing Cache क्या होता है ? टॉपिक पर पूरी जानकारी देने वाले है। आप इस पोस्ट को पूरा जरूर पढे क्योंकि यह पोस्ट आपके बहुत काम में आने वाली है।

browsing-browsing-history-browser-cache-kya-hote-hai


ब्राउज़िंग किसे कहते है ? Internet Browsing Meaning in Hindi


किसी वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल करके आप इंटरनेट पर जो भी एक्टिविटी करते है जैसे विडियो देखना,किसी वेबसाइट को ओपन करना,किसी वेब पेज पर पहुंचाना आदि को वेब ब्राउज़िंग कहते है।

जब आप किसी एक वेबसाइट के लिंक पर क्लिक करके अन्य वेब पेज पर पहुँच जाते है या कोई अन्य वेब साइट को खोलते है इसे ही Internet Browsing कहा जाता है। इंटरनेट ब्राउज़िंग ही वेब ब्राउज़िंग कहलाती है।


Browsing History क्या होती है ? Browsing History Meaning in Hindi


इंटरनेट का इस्तेमाल करते वक़्त हम अपने क्रोम या किसी और वेब ब्राउज़र में बहुत सी वेबसाइट को ओपन करते है और बहुत से वेब पेज पर ब्राउज़िंग करते है। इंटरनेट पर ब्राउज़िंग करते वक़्त खुद हमें यह जानकारी नहीं होती कि,अब तक हम कितनी वेब साइट के वेब पेज को ओपन कर चुके है।

लेकिन हमारे ब्राउज़र में यह सारी इन्फॉर्मेशन एकत्रित रहती है। इस सभी एकत्रित जानकारी को Browsing History कहते है। आप किस साइट को ओपन कर चुके है इसकी जानकारी के अलावा इसमें लॉगिन फॉर्म की जानकारी,पासवर्ड,जिस web site को ओपन किया है उसका नाम, आदि की इन्फॉर्मेशन भी एकत्रित होती है।

यदि आप यह सोचते है कि,ब्राउज़र में आप किसी वेबसाइट का इस्तेमाल करके उस वेबसाइट के टैब को बंद कर देंगे और किसी को उसके बारे में पता नहीं चलेगा तो आप गलतफहमी का शिकार है।

कोई भी आपके मोबाइल या कम्प्युटर के ब्राउज़र में जाकर Browsing History में देख सकता है कि,आप इंटरनेट पर क्या कुछ देखते है,कौनसी साइट ओपन करते है आदि।


इस कारण यदि आप चाहते है कि,यह जानकारी किसी को पता न चले तो आपको अपने ब्राउज़र की Browsing History को एक निश्चित समय अंतराल के बाद Clear कर देना चाहिए।

ब्राउज़िंग हिस्ट्री को क्लियर करने का मतलब होता है कि,आपने इंटरनेट पर क्या कुछ देखा,कौनसी साइट ओपन की आदि की जानकारी को ब्राउज़र में से साफ कर देना जिससे कोई अन्य इसे देख न सके।

Browser Cache क्या होता है ? Browser Cache Meaning in Hindi


कुछ लोग ब्राउज़िंग हिस्ट्री और ब्राउज़र कैशे को एक ही मानते है लेकिन इन दोनों में बहुत अंतर होता है।

जब आप क्रोम ब्राउज़र या किसी अन्य ब्राउज़र में किसी भी वेबसाइट को ओपन करते है तो उस वेबसाइट का लोगो,डिज़ाइन,इमेज थंबनेल,व साइट से जुड़ी कुछ अन्य इन्फॉर्मेशन हार्डडिस्क में एक फोंल्डर के रूप में सेव हो जाती है।

ब्राउज़र यह सब इन्फॉर्मेशन इस कारण स्टोर करके रखता है कि,जब आप अगली बार उस web site को दुबारा खोले तो वह साइट तेजी से लोड हो सके।

क्योंकि जब आप उस web site को दुबारा से ओपन करते है तो ब्राउज़र को उस साइट के logo,image thumbnail,आदि को दुबारा से लोड करने की जरूरत नहीं पड़ती है। वह ब्राउज़र पहले से ही Browser  Cache Memory में स्टोर करके रखे गये डेटा का इस्तेमाल करता है। जिसके परिणामस्वरूप हमारे सामने वह साइट तेजी से लोड हो जाती है।


लेकिन कई बार वेबसाइट का डिज़ाइन,लोगो,इमेज थंबनेल,उसमें एकत्रित सामग्री में बदलाव हो जाता है। उस समय जब हम उसी ब्राउज़र में उस वेब साइट को ओपन करके देखते है तो हमें पुराने रूप में ही वेब साइट दिखाई देती है। ऐसा Browsing Cache की वजह से होता है।

इस कारण हमें कुछ समय बाद एक निश्चित अंतराल में Browser Cache को भी Clear कर देना चाहिये। जिससे यदि किसी वेबसाइट में बदलाव हुया है,वेब साइट की सामग्री में बदलाव हुया है तो उस साइट को ओपन करने पर वह हमें दिखाई दे और हम वेब साइट के नए रूप को देख सके।



इन कुछ कारणों की वजह से हमें Chrome Browser या अन्य किसी भी Browser की Browsing Cache को जरूरत पड़ने पर डिलीट कर देना चाहिये।

हम उम्मीद करते है कि,आज की इस पोस्ट से आपको ब्राउज़िंग हिस्ट्री और ब्राउज़र कैशे के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। यदि यह पोस्ट आपको पसंद आई है तो इसे सोश्ल मीडिया पर शेयर जरूर करे।
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


No comments:

Post a comment

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।