Full Form Of TRP, टीआरपी का फुल फॉर्म क्या होता हैं ?

 'TRP Full Form' क्या हैं ? टीआरपी की फुल फॉर्म को जानने से पहले आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि आखिर टीआरपी क्या हैं, क्यों अधिकतर टीवी चैनल अपनी टीआरपी बढ़ाने का प्रयास करते हैं। यदि आप TRP के बारे में पूरी जानकारी चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा जरूर पढे। 

आप टीवी चैनल जरूर देखते होंगे, एक ही श्रेणी के बहुत से टीवी चैनल उपलब्ध हैं। TV Channels की संख्या दिन-प्रति दिन बढ़ती ही जा रही हैं, इस कारण एक ही श्रेणी के अंतर्गत आने वाले टीवी चैनलों के मध्य प्रतिस्पर्द्धा का स्तर बहुत बढ़ गया हैं। 

जैसा कि आप जानते है कि Tv Channels अधिकतर कमाई विज्ञापनों से ही करते हैं, टीवी कार्यक्रमों के मध्य ब्रेक के दौरान जो विज्ञापन दिखाये जाते हैं, वह विज्ञापन ही इनकी आय का प्रमुख स्त्रोत हैं। लेकिन विज्ञापन देने वाली कंपनीयां उन्ही Tv Channels को अधिक विज्ञापन देती हैं जिनकी TRP ज्यादा होती हैं। यहीं से TRP का खेल शुरू होता हैं। 

trp-full-form-in-hindi-and-english

जिस चैनल की जितनी ज्यादा टीआरपी होगी उसे उतने ही ज्यादा विज्ञापन मिलेंगे और उस चैनल की कमाई में उतनी ही ज्यादा वृद्धि होगी। अधिकतर टीवी चैनल देखने वाले दर्शकों को टीआरपी के बारे में जानकारी नहीं होती हैं, लेकिन कुछ दर्शक जानना चाहते है कि TRP क्या होती हैं, TRP का Full Form क्या होता हैं, TRP Full Form in Media में क्या होती हैं ? तो आइये इस लेख के माध्यम से टीआरपी के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त करते हैं। 

Full Form of TRP [ TRP Full Form in English and Hindi ] टीआरपी फुल फॉर्म इन इंग्लिश, टीआरपी फुल फॉर्म इन हिन्दी 

टीआरपी की फुल फॉर्म हिन्दी में "लक्ष्य रेटिंग बिंदु" या "टेलीविज़न रेटिंग बिंदु" होती हैं। TRP की Full Form हैं, Target Rating Point या Television Rating Point. 

TRP क्या होती हैं ? What is Television Rating Point or Target Rating Point ?

टीआरपी एक पैमाना हैं जो यह दर्शाता हैं कि, किस क्षेत्र में कौनसा टीवी चैनल सबसे अधिक दर्शकों द्वारा देखा जाता हैं। जिस चैनल की टीआरपी सबसे अधिक होती हैं उसका मतलब है कि उस चैनल को देखने वाले दर्शकों की संख्या अधिक हैं। 

टीआरपी को मापने के लिये कुछ घरों में टीआरपी मीटर या डिवाइस लगाये जाते हैं जो उनके टीवी से जुड़ा रहता हैं। एक दिन में दर्शक किस समय कौनसा टीवी चैनल देखता हैं, उस समय और प्रोग्राम को टीआरपी मीटर या डिवाइस रिकॉर्ड करता हैं।

इस प्रकार सभी टीआरपी मीटर या डिवाइस के आंकड़ों को मिलाकर बीते सप्ताह या महीने में किस समय कौनसा टीवी चैनल या कार्यक्रम सबसे ज्यादा दर्शकों द्वारा देखा जाता हैं, उसकी एक सूची तैयार की जाती हैं। इस सूची के आधार पर TV Channels को Television Rating Point or Target Rating Point दिये जाते है जिसे शॉर्ट रूप में TRP कहा जाता हैं। 

जिस चैनल की TRP अधिक होती हैं उस चैनल पर अधिक कंपनियाँ विज्ञापन प्रदर्शित करना चाहती हैं, इस प्रकार ऐसे टीवी चैनल जिनकी टीआरपी अधिक हैं वो  कंपनियों से टीवी कार्यक्रमों के दौरान विज्ञापन प्रदर्शित करने की एवज में अधिक पैसे वसूलते हैं। इस प्रकार यह कहा जा सकता है कि, जिस टीवी चैनल की अधिक टीआरपी होगी उसे अधिक विज्ञापन मिलेंगे जिससे उसकी कमाई में निश्चित वृद्धि होगी। 

भारत में TV Channels की TRP Calculating कैसे होती हैं ? 

भारत में TRP की गणना के लिए टीआरपी मीटर डिवाइस को कुछ स्थानों पर स्थापित किया जाता है या चयनित घरों में सेट किया जाता है। यह डिवाइस कुछ हजार दर्शकों द्वारा देखे गए चैनल या प्रोग्राम के बारे में डेटा रिकॉर्ड करते हैं। इस मीटर या डिवाइस को People's Meter भी कहा जाता हैं। 

इस मीटर के माध्यम से टीवी चैनल या कार्यक्रम की जानकारी INTAM द्वारा एक निगरानी टीम यानी इंडियन टेलीविजन ऑडियंस माप (  Indian National Television Audience Measurement ) द्वारा की जाती है। रिकॉर्ड किये गये डेटा का विश्लेषण करने के बाद यह टीम तय करती है कि किस चैनल या कार्यक्रम की टीआरपी क्या है। 

टीआरपी की कैलक्युलेशन करने का कार्य Television Rating Agencies द्वारा किया जाता हैं जैसे BARC.

TRP Full Form in Media 

मीडिया के क्षेत्र में टीआरपी की फुल फॉर्म "Television Rating Point or Target Rating Point" होती हैं। जिस चैनल की टीआरपी अधिक होती हैं उसे अधिक संख्या में कंपनियों द्वारा विज्ञापन प्रदर्शित करने के लिये चुना जाता हैं। 

इस प्रकार हम कह सकते है कि "TRP एक पैमाना है जिसके आधार पर यह तय किया जाता है कि टेलिविजन के क्षेत्र में कौनसा टीवी कार्यक्रम या टीवी चैनल लोकप्रिय हैं। 

किस Tv Channel या Tv Program की TRP सबसे ज्यादा है ? इसे चेक कैसे करे ? 

जैसा कि हम आपको बता चुके है कि टीआरपी की गणना करने का कार्य बहुत सी प्राइवेट एजेन्सीयों द्वारा किया जाता हैं। आप किसी भी Television Rating Agency की वेबसाइट पर जाकर यह चेक कर सकते है कि टीआरपी के मामले में TOP 10 Tv Channels या Top 10 Tv Programms कौनसे हैं। 

टेलिविजन रेटिंग एजन्सियों की वेबसाइट पर विभिन्न चैनल और प्रोग्राम्स को टेलिविजन रेटिंग पॉइंट  दिये जाते हैं। इन टेलिविजन रेटिंग पॉइंट का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के Advertiser, Brands यह तय करते है कि किस चैनल पर उनके प्रोडक्टस का Advertisment प्रदर्शित करना चाहिए और किस चैनल पर विज्ञापन प्रदर्शित नहीं करना चाहिए। 

चूंकि अधिक टीआरपी वाले चैनल को अधिक विज्ञापन मिलते है इसके कारण हर कोई चैनल टीआरपी में टॉप पोजीशन हासिल करना चाहता है। इसके लिये कुछ चैनल TRP Scam भी करते हैं। ऐसे टीवी चैनल टीआरपी का कैलक्युलेशन करने वाली टेलिविजन रेटिंग एजन्सि कंपनियों को पैसे का लालच देते हैं और उन्हे टीआरपी के आंकड़ों में फेर-बदल करने के लिये कहते हैं। भारत में पिछले कुछ वर्षों में बहुत से TRP Scams देखे गये हैं। 

हमें उम्मीद है कि इस ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से आपकों "TRP Ka Full Form Kya Hota Hai ?" सवाल का जबाव मिल गया होगा। इसके अलावा यदि आप टीआरपी से जुड़ा और कोई भी सवाल पूछना चाहते हैं तो कमेंट करे। इस पोस्ट को सोश्ल मीडिया पर शेयर करने के लिये नीचे दिये गये सोश्ल मीडिया बटन का इस्तेमाल करे। 

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


No comments:

Post a Comment

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।