Top 14 Difference Between State and Union Territory [ राज्य और केंद्रशासित प्रदेश में अंतर ]

यदि वर्तमान की बात की जाये तो भारत में 28 राज्य है व 8 केंद्र शासित प्रदेश है। लेकिन राज्य और केंद्रशासित प्रदेश में क्या अंतर होता है ? इसके बारे में बहुत कम लोगों को जानकारी है। अधिकांश लोग State और Union Territory में Major Difference के बारे में नहीं जानते है। 

इस कारण मैंने इस पोस्ट में "राज्य और केंद्रशासित प्रदेश में मुख्य अंतर कौनसे है?" टॉपिक पर पूरी जानकारी शेयर की है। इस पोस्ट को पढ़कर आप आसानी से "Difference Between State and Union Territory" टॉपिक से जुड़े सभी सवालों के जबाव जान जायेंगे। तो आइये आज की इस पोस्ट की शुरुवात करते है। 

difference-between-state-and-union-territory-in-india

राज्य और केंद्रशासित प्रदेश में कौन-कौनसे मुख्य अंतर है ? [ Top 14 Major Difference Between State and Union Territory in India ]

Indian State और Union Territory में Major Difference निम्न है :-

1. राज्यों में खुद की सरकार होती है। जबकि केंद्रशासित प्रदेश पर केंद्रसरकार का नियंत्रण होता है।

2. राज्य का मुखिया मुख्यमंत्री होता है। लेकिन केंद्रशासित प्रदेश का मुखिया लेफ्टिनेंट गवर्नर होता है।

3. राज्य सरकार द्वारा विधानसभा में किसी भी कानून को पारित करवाने के बाद उसे राज्य में लागू करने के लिए केंद्रसरकार की अनुमति की आवश्यकता नहीं पड़ती है। लेकिन यदि केंद्रशासित प्रदेश की सरकार है तो उसे विधानसभा में कानून पारित करवाने के बाद उसे प्रदेश में लागू करने के लिए राष्ट्रपति की मंजूरी की अवश्यकता होती है।

4. State में जिस राज्यपाल की नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा की जाती है उसके समस्त अधिकारों का इस्तेमाल उस राज्य की विधानसभा और मंत्रीमण्डल द्वारा किया जाता है।

लेकिन Union Territory में उप राज्यपाल के अधिकारों का इस्तेमाल वह खुद प्रदेश में प्रशासनिक व्यवस्था को बनाये रखने के लिए करता है।

5. यूनियन टेरिटरी और स्टेट के बीच मुख्य अंतर शासन व्यवस्था में होता है। 

6. केंद्रशासित प्रदेशों को इंग्लिश में Union Territories के नाम से भी जाना जाता है। इन प्रदेशों को संघ-राज्यक्षेत्र या संघक्षेत्र भी कहा जाता है।

7. केंद्रशासित प्रदेश की खुद की कोई सरकार नहीं होती है। इन प्रदेशों पर केंद्र सरकार का सीधा नियंत्रण होता है।

8. लेकिन यदि किसी केंद्रशासित प्रदेश की खुद की कोई सरकार हो भी तो उस सरकार के अधिकार बहुत सीमित होते है। भारत में दिल्ली और पडुचेरी केंद्रशासित प्रदेश होने के बावजूद इनमें खुद की सरकार है। लेकिन इनके अधिकार सीमित होते है।

9. केंद्रशासित प्रदेश की प्रशासनिक व्यवस्था को बनाये रखने के लिए राष्ट्रपति द्वारा एक प्रशासक या उप-राज्यपाल की नियुक्ति की जाती है। इस उप-राज्यपाल को इंग्लिश में लेफ्टिनेंट गवर्नर कहा जाता है।

10. किसी केन्द्र्शासित प्रदेश में लेफ्टिनेंट गवर्नर राष्ट्रपति के प्रतिनिधि के रूप में कार्य करता है।

11. केंद्रशासित प्रदेश में लेफ्टिनेंट गवर्नर द्वारा ही शासन व्यवस्था संभाली जाती है। केंद्र सरकार द्वारा लागू कानून या योजनाओं आदि का क्रियान्वन किया जाता है। जबकि राज्य में राज्य सरकार के द्वारा सभी प्रकार की शासन व्यवस्था संभाली जाती है। 

12. लेकिन यदि किसी Union Territory में खुद की सरकार हो जैसे दिल्ली और पडुचेरी में खुद की सरकार है तो उस विधानसभा में पारित किया गया कानून उस केंद्रशासित प्रदेश में लागू करने के लिए राष्ट्रपति की मंजूरी लेनी पड़ती है।

13. केंद्रशासित प्रदेश के अधिकांश अधिकार उप-राज्यपाल के पास होते है।

14. यही कारण है की दिल्ली और पुडुचेरी में मुख्यमंत्री होने के बावजूद उनके अधिकार बहुत सीमित होते है। मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश में कुछ भी कानून लागू करने से पहले केंद्रसरकार,राज्यपाल,राष्ट्रपति की मंजूरी लेनी बहुत आवश्यक होती है।

भारत में राज्य होने के बावजूद केंद्रशासित प्रदेश क्यों बनाए जाते हैं? Why are union territories formed despite being state in India?

यह सवाल बहुत बार पूछा जा चुका है ? आइये इस सवाल के जबाव पर नजर डालते है। 

1956 में राज्यों के पुनर्गठन पर चर्चा के दौरान, राज्य पुनर्गठन आयोग ने इन विशेष प्रदेशों के लिए एक अलग श्रेणी के निर्माण की सिफारिश की क्योंकि वे विशेष क्षेत्र किसी भी प्रकार से एक राज्य के मॉडल के रूप में स्थापित नहीं हो सकते थे।

यह देखा गया कि ये आर्थिक रूप से असंतुलित, आर्थिक रूप से कमजोर और प्रशासनिक और राजनीतिक रूप से अस्थिर क्षेत्रों को राज्य घोषित नहीं किया जा सकता था। इस कारण यह क्षेत्र केंद्र सरकार पर ही निर्भर रहते है। इन सभी कारणों को ध्यान में रखते हुए केंद्र शासित प्रदेश का गठन किया गया।

मुझे उम्मीद है कि आज की इस पोस्ट को पढ़कर आप "राज्य और केंद्रशासित प्रदेश में कौन-कौनसे मुख्य अंतर है ? [ Top 14 Major Difference Between State and Union Territory in India ]" टॉपिक के बारे में जान गये होंगे। लेकिन यदि आप इस पोस्ट से जुड़ा कोई सवाल पूछना चाहते है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। 

--
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


No comments:

Post a comment

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।