Postal Life Insurance ( डाक जीवन बीमा ) क्या है पूरी जानकारी हिन्दी में

ब्लॉग के सभी प्रिय पाठको का आज की इस Lifestyle से संबन्धित पोस्ट में बहुत स्वागत है । जेसा की हमने आपको पिछली पोस्ट में बताया था की हम अपने ब्लॉग पर अब कुछ दिन तक Life Insurance Related ब्लॉग पोस्ट पब्लिश करेंगे । आज की पोस्ट आप को डाक जीवन बीमा ( Postal Life Insurance ) के बारे में जानकारी प्रदान करेगी क्योकि बहुत से लोग डाक जीवन बीमा क्या होता है ( What is Postal Life Insurance ) के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है । तो इस लिए आज की पोस्ट विशेष रूप से उन लोगो की मदद करने के मकसद के लिए लिखी गयी है । 

daak-jivan-bima-yojna-kya-hai-postal-life-insurance



डाक जीवन बीमा क्या है ( What is Postal Life Insurance ) 



डाक जीवन बीमा जिसे PLI भी कहा जाता है सन 1884 से चला आ रहा है । यह भारत का सबसे पुराना बीमाकर्ता कहलाता है। हम सभी जानते ही है की पोस्टल लाइफ इन्शुरेंस भारत सरकार का ही एक उपक्रम है । शुरुवात में केवल इसे डाक विभाग के कर्मचारियो को लाभ देने के लिए जारी किया गया था लेकिन बदलते समय के साथ इसमे बहुत से बदलाव आए । नयी - नयी Insurance Policies आयी जिससे पीएलआई का विकास बहुत बढ़ गया है । पूरे देश भर में डाक जीवन बीमा करवाने वाले बहुत से कर्मचारी है जो इस सेवा का लाभ ले रहे है । 



पिछले कुछ वर्षों में, पीएलआई 1884 में कुछ सौ नीतियों से काफी हद बहुत सी Policies तक बढ़ी है। अब  यह बीमा  केंद्रीय और राज्य सरकारों, केंद्रीय और राज्य सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों, विश्वविद्यालयों, सरकारी सहायता प्राप्त शैक्षणिक संस्थानों, राष्ट्रीयकृत बैंकों, स्थानीय निकायों आदि के कर्मचारियों को शामिल करता है। पीएलआई रक्षा सेवाओं के अधिकारियों और कर्मचारियों को बीमा की सुविधा भी प्रदान करता है और पैरा- सैनिक बल, एकल बीमा पॉलिसियों के अलावा, डाक जीवन बीमा डाक विभाग के अतिरिक्त विभागीय कर्मचारियों ( ग्रामीण डाक सेवक ) के लिए समूह बीमा योजना भी प्रबंधित करता है। इस कारण यह एक अच्छा बीमा माना जाता है । 


आपको यह तो पता ही है की भारत में बहुत सी Life Insurance Companies है लेकिन आपको यह जानकार हेरानी होगी की पीएलआई 1938 के बीमा अधिनियम की धारा 118 (सी) के तहत एक छूट प्राप्त बीमाकर्ता है। इसे एलआईसी अधिनियम, 1 956 की धारा 44 (डी) के तहत भी छूट दी गई है। जिससे बीमाधारक को भी लाभ मिलता है । इस कारण यदि आप कर्मचारी है तो आपको इसका लाभ ज़रूर लेना चाहिए । 

तो आइये सबसे पहले यह जानते है की इस Life Insurance का लाभ किन को मिल सकता है यानि की कोन इसके लिए आवेदन कर सकते है ओर कोन इनके लिए आवेदन नहीं कर सकते है । 


डाक जीवन बीमा किन को मिल सकता है ( Who can get Postal life Insurance ) 


1 - केंद्रीय और राज्य सरकारों के कर्मचारियों को 

2 - रक्षा कार्मिक

3 - ग्रामीण डाक सेवक '

4 - डाक विभाग के कर्मचारी 

5 - भारत स्टेट बैंक की उप शाखायो व सभी ग्रामीण बैंक के कर्मचारी 

6 - सार्वजनिक उपक्रम ( केन्द्रीय व राजकीय ) के कर्मचारी 

7 - स्थानीय निधि / स्थानीय निकाय / सरकारी सहायता प्राप्त शिक्षण संस्थाये के कर्मचारी 

8 - होमगार्ड

9 - शिक्षक , इंजीनियर, वकील , डॉक्टर , अकाउंटेंट तथा बैंक कर्मी जेसे पेशेवर कर्मचारी ( शर्ते लागू )

10 - National Share Market तथा BSI ( मुंबई शेयर बाजार ) के सूचीबद्ध कंपनीयों के कर्मचारी 

तो आप ऊपर इस लिस्ट में पढ़कर यह जानकारी ले सकते है की क्या आप इस Insurance Policy के लिए पात्रता पूर्ण करते है या नहीं । ज़्यादा जानकारी ले लिए आप अपने घर के नजदीकी Post Office से संपर्क भी कर सकते है । अब हम आपको इसके Plans के बारे में जानकारी देते है । 


डाक जीवन बीमा की योजनाएँ ( PLI INSURANCE PLANS Details In Hindi )


पोस्टल लाइफ इन्शुरेंस हमे 7 प्रकार की Policy Plans प्रदान करता है जिसकी हम आपको पूरी जानकारी देने वाले है । तो इसे ध्यान से ज़रूर पढे । 

1 - Whole Life Assurance  (SURAKSHA) - पूरा जीवन बीमा ( सुरक्षा ) योजना

2 - Convertible Whole Life Assurance (SUVIDHA) - परिवर्तनीय पूरा जीवन बीमा ( सुविधा ) योजना 

3 - Endowment Assurance  (SANTOSH) - एंडॉवमेंट आश्वासन ( संतोष )

4 - Anticipated Endowment Assurance  (SUMANGAL) - अनुमानित एंडॉवमेंट आश्वासन ( सुमंगल )

5 - Joint Life Assurance  (YUGAL SURAKSHA) - संयुक्त जीवन बीमा (युगल सुरक्षा ) योजना 

6 - Scheme for Physically handicapped persons - शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिए योजना

7 - Children Policy - बच्चों की नीति ( पात्रता पूरी करने वालों के बच्चो के लिए )



 1 - Whole Life Assurance  (SURAKSHA) पोस्टल लाइफ इन्शुरेंस की जानकारी - इसे सुरक्षा Policy भी कहा जाता है । यह PLI की एक बेहतर पॉलिसी है । यह एक ऐसी योजना है जिसमे जमा किए गए धन के साथ अर्जित बोनस बीमा करवाने वाले की मृत्यु होने पर कानूनी उतराधिकारी या फिर नामित व्यक्ति को दिया जाता है । इस योजना के लिए आवेदक की न्यूनतम आयु 19 वर्ष है और प्रवेश पर अधिकतम आयु 55 वर्ष है। इसमे न्यूनतम बीमित राशि ( Minimum sum insured ) 20,000 रुपये है और अधिकतम बीमा राशि  ( Maximum sum insured ) 10 लाख रुपये है। 

पॉलिसी को एक वर्ष के पूरा होने और बीमाकर्ता की 57 वर्ष की आयु से पहले एंडॉवमेंट आश्वासन नीति में परिवर्तित किया जा सकता है। चार साल की समाप्ति के बाद उपलब्ध ऋण सुविधा  ( loan facility ) और पॉलिसी को तीन साल पूरा होने के बाद आत्मसमर्पण  ( Surrender Claim ) भी किया जा सकता है। इसमे इस बात पर ध्यान देना बहुत ज़रूरी है की अगर आप 5 साल पूरा होने से पहले ऋण के लिए आत्मसमर्पण या असाइन करते हो तो आपकी Life Insurance Policy पर मिलने वाला बोनस आपको नहीं मिलेगा । यदि पॉलिसी आत्मसमर्पण या ऋण के लिए असाइन की जाती है तो कम बीमा राशि पर आनुपातिक बोनस अर्जित किया जाता है। इसमे यदि बोनस Rate की बात की जाए तो आपको लाभग 65 रुपए प्रति 1000 रुपए जमा करवाने पर मिलते है ।



2 - Convertible Whole Life Assurance (SUVIDHA) - इस पॉलिसी की अधिकांश नियम व शर्ते ( Terms & Conditions ) ऊपर वाली पॉलिसी के समान ही है । जेसे की आयु व बीमा पॉलिसी के पैसो की शर्ते । लेकिन इसमे एक बात पर ध्यान देना बहुत ज़रूरी है की इस Policy में  बीमाधारक को बीमित राशि और अर्जित बोनस की सीमा तक आश्वासन दिया जाता है जब तक वह परिपक्वता की पूर्व निर्धारित आयु प्राप्त नहीं कर लेता है। यानि की पॉलिसी की सीमा अवधि पूरी होने पर जमा किए गए पैसे के साथ बोनस भी पूरा दिया जाता है । जबकि बीमाकर्ता की अप्रत्याशित मौत के मामले में, असाइनर, नामांकित या कानूनी वारिस को अर्जित बोनस के साथ पूर्ण बीमा राशि ( Insurance Coverage ) का भुगतान किया जाता है । 



3 - Endowment Assurance  (SANTOSH) - इस योजना को पीएलआई की संतोष पॉलिसी कहा जाता है ।  इस Policy को पांच साल बाद एंडॉवमेंट आश्वासन में परिवर्तित किया जा सकता है। रूपांतरण की तारीख पर आयु 55 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। यदि 6 साल के भीतर रूपांतरण के लिए विकल्प का उपयोग नहीं किया जाता है, तो पॉलिसी को पूरे जीवन बीमा के रूप में माना जाएगा। इस पॉलिसी में भी ऋण सुविधा उपलब्ध है। तीन साल पूरा होने के बाद पॉलिसी को Claim भी की जा सकती है। लेकिन पॉलिसी बोनस के लिए योग्य नहीं है हो पाएगी यदि policy को शुरू करने की दिनांक से 5 साल पूरा होने से पहले ऋण के लिए आत्मसमर्पण या असाइन किया गया हो इस पॉलिसी में यदि बोनस Rate की बात की जाए तो आपको लगभग 1000 रुपए जमा करवाने पर 50 रुपए बोनस मिलेगा ।


4 - Anticipated Endowment Assurance  (SUMANGAL) - यह पीएलआई की सुमंगल योजना Policy है । जिसमे अधिकतम 5 लाख तक की सीमा का बीमा किया जाता है । यह एक Money Back Insurance Policy है । यह उन लोगो के लिए बहुत अच्छी है जिनके बार बार अवधिक Return की ज़रूरत होती है । जेसे की आप 8 साल,16 साल ,20 साल के लिए बीमा करवा सकते है । इस Policy के बहुत Benefits है । इसमे आपको अधिक बोनस दिया जाएगा जो एक अच्छी बात है । 


इस पॉलिसी में समय-समय पर बीमाकर्ता को बीमाकृत लाभ का भुगतान किया जाता है (इस तरह के भुगतान बीमाकर्ता की अप्रत्याशित मौत की स्थिति में नहीं लिया जाएगा और अर्जित बोनस के साथ पूर्ण बीमा राशि असाइनरी, नामांकित या कानूनी उत्तराधिकारी को देय होगी)। दो प्रकार की नीतियां उपलब्ध हैं - 15 वर्ष की अवधि और 20 वर्ष की अवधि। 15 साल की अवधि की पॉलिसी के लिए, 6 साल (20%), 9 साल (20%), 12 साल (20%) और 15 साल (40% और अर्जित बोनस) के बाद लाभ का भुगतान किया जाता है।


 20 साल की अवधि की पॉलिसी के लिए, 8 साल (20%), 12 साल (20%), 16 साल (20%) और 20 साल (40% और अर्जित बोनस) के बाद लाभ का भुगतान किया जाता है। ऐसे भुगतानों को बीमाकर्ता की अप्रत्याशित मौत की स्थिति में ध्यान में नहीं रखा जाएगा और अर्जित बोनस के साथ पूर्ण बीमा राशि असाइन करने वाले या कानूनी उत्तराधिकारी को देय होगी।



5 - Joint Life Assurance  (YUGAL SURAKSHA) - इसे Postal Life Insurance की युगल सुरक्षा Insurance Policy कहा जाता है । यह पॉलिसी पति पत्नी के लिए है । जिनमे से कोई एक पति या पत्नी Postal Life Insurance Policy के लिए पात्र होना चाहिए । लाइफ इंश्योरेंस कवरेज दोनों को एक प्रीमियम के साथ अर्जित बोनस के साथ बीमा राशि के हद तक प्रदान किया जाता है। अन्य सभी सुविधाएं एंडॉवमेंट पॉलिसी के समान हैं।  उपरोक्त सभी योजनाओं में अनिवार्य चिकित्सा परीक्षा है। यानि की पहले एक Medical Test किया जाएगा। किसी भी श्रेणी की गैर-चिकित्सा नीति के लिए (एईए और संयुक्त जीवन बीमा को छोड़कर जिसके लिए चिकित्सा परीक्षा अनिवार्य है), अधिकतम बीमा राशि 1 लाख रुपये है।


6 - Scheme for Physically handicapped persons - पीएलआई में शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिए बीमा की अधिकतम सीमा दूसरों के समान ही है और वह किसी भी योजना को ले सकता है। इस योजना के तहत चिकित्सा जांच अनिवार्य है  ( Medical Test Compulsory  ) । ताकि उनकी विकलांगता की सटीक प्रकृति और सीमा निर्धारित हो और बीमित व्यक्ति पर इसका असर हो। विकलांगता की प्रकृति और सीमा के आधार पर, सामान्य या थोड़ा अधिक प्रीमियम चार्ज किया जाता है। परिपक्वता की तारीख से पहले बीमाधारक की मृत्यु के कारण पॉलिसी बनने की स्थिति में, नामांकित व्यक्ति या कानूनी उत्तराधिकारी को देय राशि, जैसा भी मामला हो, निम्नानुसार निर्धारित किया जाएगा: लेकिन इसमे कुछ शर्तो को ध्यान में रखा जाता है । जेसे की - 

A - यदि बीमाधारक की मृत्यु पॉलिसी की स्वीकृति की तारीख से एक वर्ष पूरा होने से पहले होती है, तो बीमा राशि का केवल 35% और अर्जित बोनस देय होगा । 

B - यदि बीमित व्यक्ति की मृत्यु दो साल की समाप्ति से पहले होती है लेकिन पॉलिसी की स्वीकृति की तारीख से एक वर्ष बाद, केवल 60% बीमा राशि और अर्जित बोनस देय होगा।

C - यदि बीमित व्यक्ति की मृत्यु तीन साल की समाप्ति से पहले होती है लेकिन पॉलिसी की स्वीकृति की तारीख से दो साल बाद, बीमा राशि और अर्जित बोनस का 90% देय होगा।

D - यदि बीमित व्यक्ति की मृत्यु तीन साल के पूरा होने के बाद होती है, तो उस पर अर्जित बोनस के साथ पूर्ण बीमा राशि देय होगी। 


7 -  Children Policy - डाक विभाग ने 20 जनवरी 2006 को प्रभावी रूप से पीएलआई / आरपीएलआई के तहत बाल नीति पेश की है। इस योजना की मुख्य विशेषताएं निम्नानुसार हैं: -

A - पीएलआई / आरपीएलआई पॉलिसीधारकों के बच्चों को बीमा कवर प्रदान करने के लिए इस योजना की कल्पना की गई है।

B - परिवार में अधिकतम दो बच्चे बच्चों की नीति लेने के पात्र होंगे। तीसरा बच्चा पात्र नहीं होगा । 

C - 5 से 20 वर्ष की आयु के बच्चे योग्य हैं और अधिकतम बीमा राशि 1 लाख रुपये है या मुख्य पॉलिसी धारक के बीमा राशि के बराबर है  । इस बात पर विशेष ध्यान दे । 

D - मुख्य पॉलिसीधारक Main policyholder ) को 45 साल की उम्र प्राप्त नहीं होनी चाहिए। यानि की उम्र 45 
से कम होनी चाहिए ।

 E - मुख्य पॉलिसीधारक की मृत्यु पर बच्चों की नीति पर कोई प्रीमियम भुगतान नहीं करना होगा और अर्जित बोनस के साथ पूर्ण बीमा राशि बच्चों की पॉलिसी की अवधि पूरी होने के बाद बच्चे को दी जाएगी। बच्चे / बच्चों की मौत पर, अर्जित बोनस के साथ पूर्ण बीमा राशि मुख्य पॉलिसीधारक को देय होगी।

F - मुख्य नीति धारक बच्चों की नीति के भुगतान के लिए जिम्मेदार होगा। बच्चों की पोल्सी पर कोई ऋण स्वीकार्य नहीं होगा, हालांकि पॉलिसी के पास भुगतान करने के लिए सुविधा होगी, बशर्ते प्रीमियम 5 साल तक लगातार भुगतान किया जाए।

G - बच्चे की कोई मेडिकल परीक्षा  ( Medical Test ) आवश्यक नहीं है, हालांकि बच्चे को प्रस्ताव के दिन स्वस्थ होना चाहिए और प्रस्ताव प्रस्ताव की स्वीकृति की तारीख से शुरू होगा।

H - पॉलिसी एंडॉवमेंट पॉलिसी पर लागू दर पर बोनस को आकर्षित करेगी। समय-समय पर संशोधित पीओआईएफ नियम बच्चों की नीति पर लागू होंगे।


तो यह थी Postal Life Insurance Policy Plans की जानकारी , अब हम आपको जानकारी देने वाला हूँ की इन Insurance Policy के Benefits क्या है ।


Postal Life Insurance Policy's Benefits ( डाक जीवन बीमा पॉलिसी के लाभ ) 


1 - पोस्टल लाइफ इन्शुरेंस India में किसी भी Life Insurance Company की तुलना में कम प्रीमियम अदा करने पर भी अधिक बोनस प्रदान करता है । यदि हम LIC व PLI की Whole Life Insurance Policy की तुलना करे तो PLI वाला बीमाधारक LIC वाले बीमाधारक की तुलना में लगभग 26% से 36% कम Premium का भुगतान करता है । इस कारण आपको यह बीमा करवाना चाहिए । यदि आप इसकी पात्रता के मानदंडो को पूरा करते है । 

2 - इसमे हमे किसी भी निजी एजेंट के चक्कर लगाने की कोई ज़रूरत नहीं है । आप अपने नजदीकी Post Office में जाकर सभी Policy के बारे में जान सकते है व बीमा करवा सकते है । 

3 - शर्तो के अधीन Policy Holder Loan भी प्राप्त कर सकता है । लेकिन कुछ शर्तो के अधीन ही यह स्वीकार होता है । 

4 - यदि पॉलिसी होल्डर अपना Policy Bond Document खो देता है या किसी कारणवश आपके पास डॉकयुमेंट उपलब्ध नहीं है तो आपको नया Duplicate Bond जारी किया जाता है ।

5 - ज़्यादा झंझट नहीं है । साफ व सीधी Terms व Conditions है । एक भरोसा है जो आप किसी दूसरी कंपनी की पॉलिसी पर नहीं कर सकते है ।

7 - PLI की अच्छी Interest बोनस Rate है । 

6 - इसके अलावा भी आपको बहुत से ऐसे Benefits मिलते है जो आपको किसी अन्य Life insurance Policy में नहीं मिलता है । तो देर किस बात की जल्द ही Post Office में जाकर पूरी जानकारी प्राप्त करे व अपने लिए एक बेहतर Life Insurance Policy Buy करे । 

यदि आप PLI Life Insurance के बारे में पूरी जानकारी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप इनकी Offical Site पर Visit कर सकते है । 

तो मुझे उम्मीद है की आपको आज की यह पोस्ट पसंद आयी होगी। यदि आपको आज की पोस्ट Postal Life Insurance ( डाक जीवन बीमा ) क्या है पूरी जानकारी हिन्दी में  (  PLI INSURANCE PLANS Details In Hindi ) पसंद आती है तो इसे Social Media पर Share ज़रूर करे । 
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


No comments:

Post a comment

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।