PAN Card क्या होता है ? फायदे व उपयोग,पैन कार्ड कैसे बनाये ?

आज के इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी देने वाले है की पैन कार्ड क्या होता है,पैन कार्ड बनाना क्यों ज़रूरी होता है.पैन कार्ड के क्या उपयोग है,और Pan Card कैसे बनाया जाता है.यदि आप भी Pan Card Complete Information चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा ज़रूर पढ़िए.


pan-card-kya-hai-apply-kaise-kare



PAN Card क्या होता है ? पैन की फुल फॉर्म क्या है ?


PAN 10 अंको का एक  स्थायी खाता संख्या (  Permanent account number ) होता है.इन 10 अंको में कुछ अंक English के व कुछ अंक संख्या में होते है.यह एक ऐसा दस्तावेज होता है जो भारत के इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के द्वारा हर उस नागरिक और संस्था को जारी किया जाता है जो Tax ( कर ) भरता है.हम यह भी कह सकते है की पैन कार्ड हर एक करदाता को आवंटित किया जाता है.

यह दस्तावेज एक पहचान प्रमाण के रूप में भी कार्य करता है। वित्तीय लेनदेन के लिए पैन अनिवार्य होता है जैसे कि कर योग्य वेतन या पेशेवर शुल्क प्राप्त करना, निर्दिष्ट सीमा से ऊपर की संपत्ति की बिक्री या खरीद, म्यूचुअल फंड खरीदना या बैंक में तय सीमा से ज्यादा नगद राशि जमा करवाना या निकालना.

pan-card-kya-hota-hai


सरकार द्वारा पैन कार्ड को अनिवार्य करने के पीछे का प्राथमिक उद्देश्य वित्तीय लेनदेन को ट्रैक करना है.क्योकि पैन कार्ड को बैंक अकाउंट व आधार कार्ड से लिंक करवाना ज़रूरी हो गया है.इसका फायदा सरकार को होता है क्योकि इससे उसको पता लग जाता है की कोनसा आदमी या संस्था Income Tax चोरी कर रहा है.

पैन कार्ड के प्रकार - जैसा की हम आपको बता चुके है की यह नंबर हर एक कंपनी,संस्था,सोसाइटी,व्यक्ति को जारी किया जाता है जो टैक्स भरना चाहते है या अधिक मात्रा में बैंक से धन लेना या जमा करना चाहते है.

पैन के अलग-अलग प्रकार होते है जैसे - 

  • व्यक्ति
  • HUF- हिंदू अविभाजित परिवार
  • कंपनी
  • फर्मों / भागीदारी
  • न्यास
  • समाज
  • विदेशियों

एक व्यक्ति या संस्था को केवल एक बार ही पैन कार्ड नंबर जारी किया जाता है.एक से ज्यादा पैन कार्ड रखना अकानुनी है और इस अपराध के लिए 10,000 रूपये तक का जुर्माना भी लगाया जा सकता है.

PAN Card बनाने के फायदे और उपयोग क्या है ? आखिर क्यों आपको पैन कार्ड बनाना चाहिए ? पैन कार्ड बनाने का क्या लाभ और हानियाँ है ?


आज पैन कार्ड बहुत ज़रूरी हो गया है.जितना आपका आधार कार्ड जरुरी है उतना ही पैन कार्ड भी ज़रूरी हो गया है,क्योकि आजकल हम जितने भी ऑनलाइन या ऑफलाइन फॉर्म भरते है चाहे वह किसी भी क्षेत्र का हो सबसे पैन कार्ड नंबर माँगा जाता है.

कई ऑनलाइन फॉर्म तो ऐसे होते है जिसमे पैन कार्ड नंबर भरना अनिवार्य हो जाता है.बैंक में 50000 रूपये से अधिक जमा या निकालने के लिए भी बैंक अकाउंट से पैन कार्ड लिंक होना ज़रूरी है.आजकल Loan लेने के लिए,वाहन खरीदने के लिए आदि कामो में पैन कार्ड माँगा जाता है.

यही कारण है की पैन कार्ड हर एक इंसान बनाना चाहता है.वैसे तो पैन कार्ड नंबर का इस्तेमाल कर भरने के लिए किया जाता है लेकिन बहुत से लोग जो कर नहीं भरते उनका भी पैन कार्ड होता है.क्योकि पैन कार्ड का इस्तेमाल आजकल केवल कर भरने के अलावा बहुत से कामो में होने लग गया है.नीचे हमने पैन कार्ड के क्या उपयोग है और पैन कार्ड किन-किन कामो में जरुरी होता है सभी को एक लिस्ट में लिखा है.

1. दोपहिया वाहनों को छोड़कर वाहनों की खरीद या बिक्री के लिए Pan Card नंबर होना चाहिए.

2. बैंकिंग कंपनी के साथ कोई भी खाता खोलने के लिए जिसमें किसी भी वित्तीय वर्ष के दौरान 50,000 रुपये से अधिक की राशि जमा करने या 5,00,000 रुपये से अधिक की कुल राशि के लिए आवश्यक है -

3. क्रेडिट कार्ड  के लिए आवेदन करते वक़्त पैन कार्ड माँगा जाता है.

4. डीमैट खाता खोलने के लिए जो किसी डिपॉजिटरी के साथ, या प्रतिभूतियों के संरक्षक या भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड (सेबी) के किसी व्यक्ति के साथ किया जाता है।

5. नकद में भुगतान के लिए जो 50,000 रुपये से अधिक है उस वक़्त पैन कार्ड की जरुरत होती है.

6. किसी भी वित्तीय वर्ष में 50,000 रुपये से अधिक की राशि के लिए बीमाकर्ता को प्रीमियम के रूप में एक जीवन बीमा के भुगतान के लिए।

7. किसी भी राशि के लिए प्रतिभूतियों (शेयरों को छोड़कर) को खरीदने या बेचने के लिए जो प्रति लेनदेन 100,000 रुपये से अधिक है।

8. कंपनी के शेयरों की खरीद और बिक्री के लिए जहां कंपनी किसी भी मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंज में 1,00,000 रुपये से अधिक के लेनदेन के लिए सूचीबद्ध नहीं है।

9. किसी भी संपत्ति को खरीदने और बेचने के लिए जो 10,00,000 रुपये से अधिक की किसी भी राशि के लिए अचल है या यदि यह एक स्टाम्प वैल्यूएशन अथॉरिटी द्वारा किसी राशि के लिए मूल्यवान है जो 10,00,000 रुपये से अधिक है।

10. एक नाबालिग व्यक्ति अपने पिता या माता या अभिभावक के पैन का उपयोग कर सकता है बशर्ते उसके पास आयकर के रूप में भुगतान करने के लिए कोई आय नहीं है।

तो इतने सारे लाभ और फायदे होते है.इसी कारण आपको भी अपना पैन कार्ड बना लेना चाहिए.पैन कार्ड बनाने का कोई नुकसान नहीं है.पैन कार्ड बनाने के बाद उसको बैंक व आधार कार्ड से लिंक ज़रूर कर ले.आपका टैक्स तभी कटता है जब आपकी प्रति वर्ष आय 2 लाख 50000 से अधिक है तभी आपका Income Tax काटा जाता है.

पैन कार्ड कैसे बनाये ? PAN Card Ke Liye Apply Kaise Kare ? क्या बच्चो का पैन कार्ड बनाया जा सकता है ? पैन कार्ड कब किस उम्र में बनता है ? पैन कार्ड बनाने के लिए कोनसे Documents जरुरी होते है ? पैन कार्ड बनाने में कितने रूपये खर्च होते है ?


यदि आप यह सोचते है की 18 वर्ष की उम्र होने के बाद ही पैन कार्ड के लिए अप्लाई किया जा सकता है तो यह गलत है.Income Tax Department बच्चो के लिए भी पैन कार्ड नंबर जारी करता है.यदि छोटे बच्चे के नाम कोई सम्पति या धन है जिसकी कीमत कर लगाने योग्य है,या बच्चे के नाम पर कोई धन निवेश किया जा रहा है तो पैन कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है.

लेकिन यदि ज़रूरत हो तो तभी बच्चो के लिए Minor Pan Card Apply करना चाहिए.

18 वर्ष आयु होने पर आप पैन कार्ड के लिए जरुर आवेदन करे,यदि आपकी कोई रजिस्टर कंपनी,संस्था,फ़र्म है जो प्रति वर्ष कर देने योग आय कमाती है तो उनके लिए भी पैन कार्ड नंबर के लिए आवेदन किया जा सकता है.

how-to-apply-for-pan-card


अब आप सोच रहे होंगे की पैन कार्ड के लिए apply कैसे करे तो इसकी जानकारी भी हम आपको देंगे.

पैन कार्ड बनाने के लिए आपको Form 49A भरना होता है और उसमे जो जानकारी माँगी जाती है उसको भरना होता है और 120 रूपये का शुल्क भरना होता है जिससे आपका फॉर्म सबमिट हो जाता है.यदि आपने सारी जानकारी सही भरी है तो आपको  Permanent Account Number Allot कर दिया जाता है.

पैन कार्ड बनाने के लिए आप Online और ऑफलाइन आवेदन कर सकते है.भारत में पैन कार्ड बनाने के लिए सरकार के 2 विभाग है.एक NSDL व दूसरा UTI आप इन दोनों विभागों में से किसी भी विभाग में फॉर्म 49A जमा करवाकर पैन कार्ड बनवा सकते है.

यदि आप ऑनलाइन पैन कार्ड बनाना चाहते है तो आपको NSDL या UTI की वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा और 120 रूपये तक का शुल्क भरना होगा.

यदि आप ऑफलाइन पैन कार्ड बनाना चाहते है तो आप अपने आस-पास किसी सेवा केंद्र के जरिये आवेदन कर सकते है जो पैन कार्ड बनाने के लिए रजिस्टर हो.पैन कार्ड के लिए आवेदन करने के 20 दिन के अन्दर आपके पते पर पैन कार्ड बनकर आ जाता है.

PAN CARD बनाने के लिए आपको अपनी एक फोटो,पता प्रमाण पत्र,बैंक की पासबुक फोटोकॉपी,आधार कार्ड,जन्म प्रमाण पत्र या 10 वीं कक्षा की अंकतालिका,आपके हस्ताक्षर की जरुरत होती है.इन डाक्यूमेंट्स के जरिये आप पैन के लिए आवेदन कर सकते है.


आज की पोस्ट में हमने पैन कार्ड से सम्बंधित हिंदी में जानकारी शेयर की है.यदि आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है.हम आपके सवालों का जबाव देंगे.
--
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


No comments:

Post a comment

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।