कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी

सरकार द्वारा 21 दिन के लिये लगाये गये Lockdown का पालन जरूर करे। कोरोना जैसी महामारी को देश में फैलने से रोकने के लिये और खुद इससे बचने के लिये घर से बाहर न निकले। सरकार द्वारा दिये जा रहे निर्देशों का पालन जरूर करे।

Saturday, 14 December 2019

जर्मन शेफर्ड नस्ल की पूरी जानकारी - लक्षण,स्वभाव,रंग,वजन

- - - -
Amojeet Hindi Blog पर आप सभी पाठको का बहुत स्वागत है। आज की इस पोस्ट में हम आपको जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्तो के बारे में पूरी जानकारी ( German Shepherd Dog Dog Breed Information ) देने वाले है। यदि आप इस नस्ल के कुत्तो की पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो यह लेख आपकी मदद कर सकता है। हमने इस नस्ल के कुत्तो पर पूरी रिसर्च करके यह लेख लिखा है।


पूरे विश्व में यदि एक ऐसी कुत्ते की नस्ल की बात की जाये जो पूरे विश्व में विख्यात हो तो "जर्मन शेफर्ड" का नाम पहले नंबर पर आता है। इस नस्ल के कुत्ते बहुत  बुद्धिमान किस्म के होते है। इस पोस्ट में हम आपको इस नस्ल के कुत्ते के लक्षण,स्वभाव,स्वास्थ्य,इतिहास,रंग आदि के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

German-shepherd-dog-breed-full-information-in-hindi


जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्ते की पूरी जानकारी - German Shepherd Dog Dog Breed Full Information in Hindi


German Shepherd बड़े आकार के कुत्ते होते है। इनका जन्म स्थल जर्मनी है। इस कारण इस नस्ल के कुत्तो को जर्मन शेपर्ड नाम दिया जाता है।

जर्मन में इस नस्ल के कुत्तो को कई अन्य नाम भी है। लेकिन इंग्लिश में इस नस्ल के कुत्तो को जर्मन शेफर्ड नाम ही दिया गया है। यह नस्ल के कुत्ते आदिम, भेड़िया जैसी दिखने वाले रंग - रूप के होते है।

इस नस्ल के कुत्ते बहुत अधिक ताकत वाले होते है। यह आसानी से Training प्राप्त करके नये नये काम करना सीख जाते है। इस नस्ल के कुत्ते बुद्धिमान होने के कारण इनको खोज और बचाव, पुलिस और सैन्य भूमिकाओं और अभिनय सहित कई प्रकार के कार्यों के लिए पसंदीदा नस्ल वाले कुत्ते कहा जाता है।

इस नस्ल के कुत्ते की महत्वपूर्ण जानकारी हमने नीचे एक सारणी में प्रस्तुत की है।

अन्य नाम ( Other Name )
 Alsatian wolf dog,Berger Allemand,Deutscher Schäferhund
भार ( Weight )
नर जर्मन शेफर्ड – 30 से 40 किलोग्राम
मादा जर्मन शेफर्ड – 20 से 35 किलोग्राम
ऊंचाई ( Height )
नर जर्मन शेफर्ड – 24 से 26 इंच
मादा जर्मन शेपर्ड – 22 से 24 इंच
जीवन काल ( Lifespan )
9 से 13 वर्ष
रंग ( Color )
ज़्यादातर काले रंग के,2 मिले जुले रंग के,ठोस काले
कोट (एक जानवर का कोट उसके शरीर पर फर या बाल होते है ) ( Coat )
डबल कोट
संतान ( Litter Size )
एक मादा जर्मन शेफर्ड 4 से 9 पिल्लो को जन्म देती है।



animal-animal-photography-blur-breed-german-shepherd

जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्ते का इतिहास - History Of German Shepherd Dog Breed



  • इस नस्ल के कुत्ते सबसे पहले  यूरोप में विकसित हुये थे। माना जाता है की 1859 से पहले एक यूरोपीय हेरिंग कुत्ते से जर्मन शेफर्ड कुत्तो की नस्लों को जन्म हुया था।
  • उस समय यूरोप में इस नस्ल के कुत्तो के तीन प्रकार थे - ( बेल्जियम शेफर्ड, जर्मन शेफर्ड और डच शेफर्ड )
  • यह कुत्ते प्राचीन समय में घरों की रक्षा करने वाले कुत्ते माने जाते थे।
  • लेकिन फिर धीरे - धीरे लोगो ने इस नस्ल के कुत्तो की बुद्धि, गति, शक्ति और गंध की गहरी समझ को पहचान लिया। तब से इस नस्ल के कुत्तो का इस्तेमाल कई कार्यो में किया जाने लगा था।
  • 1899 में, वॉन स्टीफ़निट्ज़ नाम के एक व्यक्ति ने एक डॉग शो के दौरान अपने कुत्ते को पहला जर्मन शेफर्ड कुत्ता घोषित किया गया था। तब से German Shepherd नस्ल को कुत्तो की एक नस्ल के रूप में रजिस्टर किया गया था।
  •  वैसे जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्ते दूसरी नस्ल के कुत्तो के संकरण के द्वारा विसकित हुये थे।
  • एडॉल्फ हिटलर ने अपनी गरीबी के वर्षों के दौरान, 1921 में "प्रिंज़" नामक एक जर्मन शेफर्ड कुत्ते को पाला था। हिटलर भी इस नस्ल के कुत्तो की वफादारी और आज्ञाकारिता को बहुत पसंद करता था।
  • बीसवीं शताब्दी के पूर्वार्द्ध के दौरान, शेफर्ड डॉग को पवित्रता और सैन्यवाद के साथ नस्ल के जुड़ाव के कारण इम्पीरियल और नाजी जर्मनी में इसे बहुत पसंद किया जाता है।
  • वॉन स्टीफनित्ज़ द्वारा इस नस्ल का नाम डॉचर शफरहंड ( Deutscher Schäferhund ) रखा गया था, जिसका शाब्दिक अर्थ "जर्मन शेफर्ड डॉग" था। 


जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्ते का आकार ,पहचान और लक्षण - Appearance Of German Shepherd Dog Breed



  • जर्मन शेफर्ड मध्यम आकार के कुत्तों की नस्ल मानी जाती है।
  • यह अधिकतम 26 इंच ऊंचे होते है।
  • इस नस्ल के कुत्तो का वजन 20 से 40 किलोग्राम तक होता है।
  • इन कुत्तो की आँखें मध्यम आकार की और भूरे रंग की होती हैं।
  • इनके कान बड़े और खड़े होते है।
  • एक जर्मन शेफर्ड लंबी गर्दन वाला होता है।
  • इस नस्ल के कुत्ते मजबूत जबड़े वाले होते है।
  • इस नस्ल के कुत्तो की पूंछ झाड़ीदार बालो वाली होती है।
  • इस नस्ल के कुत्ते डबल कोट वाले होते है। शरीर पर घने बाल होते है।
  • एक कोट मध्यम बाल वाला होता है। जबकि दूसरा कोट लंबे बालो वाला होता है।
  • इस नस्ल के कुत्ते अधिकतर काले-भूरे रंग के होते है। शरीर भी रंगो के निशान भी होते है।
  • इन कुत्तो के काले नाक के साथ एक लंबा थूथन होता है।


photo-of-a-german-shepherd-sniffing

जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्तो का स्वभाव व विशेषता - Temperament Of Bulldog Breed 


यदि आप इस नस्ल के कुत्तो को पालना चाहते है तो आपको इनके स्वभाव के बारे में भी पूरी जानकारी होनी चाहिए।


  • जर्मन शेफर्ड को उनकी बुद्धि के लिए विशेष रूप से माना जाता है। 
  • यदि इस नस्ल के कुत्तो को कोई नया काम सिखाना है तो उसे यह बहुत जल्दी सीख लेते है। 
  • "The Intelligence of Dogs" पुस्तक के लेखक Stanley Coren ने अपनी पुस्तक में लिखा है की ,यदि इस नस्ल के कुत्तो को कोई काम 5 बार करके सिखाया जाए तो यह उस काम को आसानी से सीख लेते है। 
  • यह बहुत ही आज्ञाकारी नस्ल के कुत्ते है। यह अपने मालिक के लगभग 95% आदेशो की पालना करते है। 
  • इनकी बुद्धि और ताकत के कारण ही इनका इस्तेमाल पुलिस, गार्ड और खोज और बचाव कुत्तों के रूप में किया जाता है। 
  • German Shepherd कुत्ते दूसरी नस्ल के कुत्तो की अपेक्षा जल्दी से विभिन्न कार्यों को सीखने और निर्देशों को समझते है। 
  • यह अपने मालिक के साथ बहुत वफादार होते है। और अजनबी लोगो से जल्दी मिलते-जुलते नहीं है। 
  • जर्मन शेफेर्ड कुत्ते स्वभाव से अधिक आक्रामक होते है। 
  • जर्मन शेफर्ड के काटने पर उस जगह पर 1,060 न्यूटन से अधिक (238 lbf) तक दबाव पड़ता है। जो बहुत अधिक होता है। 
  • इस कुत्ते की नस्ल के आलोचक इसे "आधा कुत्ता, आधा मेंढक" बताते हैं। 
  • जर्मन शेफर्ड काम करने वाले कुत्तों के रूप में उपयोग में लिए जाते है। 
  • यह  विशेष रूप से अपने पुलिस कार्य के लिए जाने जाते हैं, अपराधियों पर नज़र रखने, अशांत क्षेत्रों में गश्त करने और संदिग्धों का पता लगाने में बहुत काम आते है। 
  • German Shepherd Dog बचाव कुत्तों और निजी गार्ड कुत्तों के रूप में इस्तेमाल किए जाते है। 
  • इनकी सूंघने की क्षमता बहुत अधिक होती है। यह आसानी से Training के बाद नशीले पदार्थों का पता लगाना, विस्फोटक का पता लगाना, त्वरक का पता लगाना और खदान का पता लगा लेते है। 
  • 2016 तक, जर्मन शेफर्ड अमेरिका में दूसरी सबसे लोकप्रिय नस्ल है।



photo-of-man-in-old-military-uniform-standing-next-to-german-shepherd

जर्मन शेफेर्ड नस्ल के कुत्तो का स्वास्थ्य - Health And Health Issue Of German Shepherd Dog Breed 


  • इस नस्ल के कुत्तो में "dysplasia" की समस्या देखी गयी है। इसमे शरीर में कई जगह ऊतक ज्यादा ग्रोथ कर जाते है। इस नस्ल के कुत्तो में कूल्हो और कोहनी पर यह समस्या देखी गयी है। 
  • इस कारण इनको दर्द,लगड़ापन हो सकता है। 
  • इस नस्ल के कुत्तो को प्रतिदिन सुबह शाम खेल-कूद,दौड़ लगाना जरूरी होता है। इससे इनका शारीरिक और मानसिक विकास उचित होता है। 
  • ब्रिटेन में हालिया सर्वेक्षण के अनुसार जर्मन शेफर्ड का जीवन काल 11 वर्ष ही होता है। 
  • मादा जर्मन शेफर्ड  4 से 9 पप्पी को जन्म देती है। 

हम उम्मीद करते है की आपको आज की इस पोस्ट से जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्तो की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। यदि यह लेख आपको पसंद आता है तो इस पोस्ट को शेयर जरूर करे और इस पोस्ट पर कमेंट भी करे। 
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

---- - -

Share This Post :-


No comments:

Post a Comment

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।