कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी

सरकार द्वारा 21 दिन के लिये लगाये गये Lockdown का पालन जरूर करे। कोरोना जैसी महामारी को देश में फैलने से रोकने के लिये और खुद इससे बचने के लिये घर से बाहर न निकले। सरकार द्वारा दिये जा रहे निर्देशों का पालन जरूर करे।

Saturday, 30 November 2019

Poem in Hindi Nursery - Hindi Poems for Kids and Children

आपका आज की इस पोस्ट में बहुत स्वागत है। इस पोस्ट में हम आपके लिये कुछ बेहतरीन नर्सरी कक्षा या नर्सरी स्कूल के बच्चों के लिये कविता लेकर आये है। यह कविता छोटे बच्चों को जरूर पसंद आयेगी। यदि आप भी इंटरनेट पर "Poem in Hindi Nursery - हिन्दी कविता नर्सरी" सर्च कर रहे है तो यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आयेगी।

जैसा की आप जानते ही है की Nursery School या Nursery Class में 3 से 5 साल तक के बच्चे होते है। और छोटे बच्चो को नयी चीजें सिखाने का एक बहुत बढ़िया माध्यम यह होता है की उनको नयी - नयी कविता सिखायी जाये। इसी कारण यदि आप Nursery School Teacher है तो आपको भी कुछ Hindi Nursery Poem याद होनी चाहिये। जिससे आप छोटे बच्चो को बेहतरीन ढंग से सीखा सके।


Poem-in-Hindi-Nursery-Kids-Children



Top Poem in Hindi Nursery - हिन्दी कविता नर्सरी - Best Poems in Hindi For Nursery Classes Student - Hindi Nursery Rhymes


बेहतरीन हिन्दी नर्सरी कविता - नर्सरी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चो के लिये कवितायें -

पहली नर्सरी कविता - एक दो तीन चार पाँच

एक दो तीन चार पाँच
मेरे पैरो के नीचे काँच
काँच पर चलना नहीं है
हर दिन स्कूल आना सही है,

EK-DO-TIN-CHAR-PANCH-HINDI-POEM-NURSERY


दूसरी नर्सरी कविता  - समुन्द्र में बहुत हैं पानी

समुन्द्र में बहुत हैं पानी
दादी सुनाती हमे कहानी
कहानी सुनकर बड़ा मजा आया
मैंने केला,आम,संतरा सब खाया

SAMUNDR-ME-BAHUT-HAI-PANI-HINDI-POEM-NURSERY-Kids-children


तीसरी नर्सरी कविता - गर्म चीजों को हाथ नहीं लगाना

गर्म चीजों को हाथ नहीं लगाना चाहिये
सुबह उठकर हर दिन नहाना चाहिये
ताजा फल जरूर खाना चाहिये
विघालय में हर दिन आना चाहिये।

चौथी नर्सरी कविता - मेरे पापा

मेरे पापा करते है बहुत काम
मेरे लिये लाते है आम
आम बहुत मीठा होता है
वो देख अंकल सोता है।

पाँचवी नर्सरी कविता  - मेरा दोस्त मेरा साथी

मेरा दोस्त मेरा साथी है,
वो देख कितना बड़ा हाथी है,
हाथी के दांत बहुत बड़े है
चलो बच्चो प्रणाम करो - तुम्हारे माता-पिता खड़े है।

mera-dost-mera-sathi-hai-best-poem-for-nursery-class-children


नर्सरी कविता - सुबह को मॉर्निंग

सुबह को Morning कहते है
दोपहर कहते है Noon
शाम को Evening कहते है।
रात को Night कहते है
उस वक़्त आसमान में
बहुत ही Star होते है केवल एक ही होता है Moon


नर्सरी कविता  - आकाश में पक्षी

आकाश में पक्षियों को उड़ने दो
हाथ से हाथ जुडने दो
हाथ जुड़कर बन जायेगी एक Line
सूरज करता दिन में Shine

नर्सरी कविता  - मम्मी ने रोटी

मम्मी ने रोटी पकाई है
मैंने आज 2 खाई है
रोटी खाकर पीया पानी
मछ्ली जल की है रानी

नर्सरी कविता - रेगिस्तान में रेत

रेगिस्तान में रेत होता है
किसान का खेत होता है
खेत में उगाता है वो फसल
एक - दूसरे की मत करो नकल

नर्सरी कविता - मेरे पापा मेरे लिये

मेरे पापा मेरे लिये लाते है खिलौना
स्कूल जाते वक़्त नहीं है रोना 

Nursery Rhymes in Hindi - Hindi Nursery Rhymes With Lyrics - Hindi Poems for Kids and Children 


Nursery Rhymes Poem Lyrics in Hindi For Kids And Children

चिड़िया आकाश में उड़ती है
बच्चो के लिये खाना लेकर मुड़ती है
उसके बच्चे खाना खाते है
खाना खाकर सो जाते है। 

नदियों में मछ्ली रहती है
रानी राजा से कहती है
मछ्ली पानी के संग बहती है
सर्दी-गर्मी सब सहती है।

बारिश आयी बारिश आयी
चलो सभी नहाते है
पक्षी दिन - भर आकाश में उड़ते है
शाम को लौट कर घोंसले में आते है। 

सुबह जल्दी उठकर नहाना चाहिये
हर दिन स्कूल आना चाहिये
भूखे को खाना खिलाना चाहिये
जो गिर जाये उसको उठाना चाहिये


पाठको हम उम्मीद करते है की आपको आज का यह लेख पसंद लगा होगा। हम Poem in Hindi Nursery - Hindi Poems for Kids and Children पर एक और नयी ब्लॉग पोस्ट जल्द ही पब्लिश करेंगे। 
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


No comments:

Post a Comment

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।