Midi keyboard क्या होता है,मिडी कीबोर्ड की हिन्दी जानकारी

Amojeet ब्लॉग की पोस्ट में आपका स्वागत है,इस पोस्ट में हम आपको यह जानकारी देने जा रहे है कि midi keyboard क्या होता है और midi keyboard को use कैसे करते है.मिडी कीबोर्ड म्यूजिक बनाने के लिए बहुत ही ज़रूरी होता है,क्योकि आजकल digital तरीके से music produce करने के लिए midi keyboard का प्रयोग किया जाता है.एक music recording studio आज के ज़माने में मिडी कीबोर्ड के बिना अधुरा सा लगता है.


यदि आपका भी म्यूजिक बनाने में interest है तो आज की यह पोस्ट पूरी ज़रूर पढ़े,क्योकि इससे आपको म्यूजिक बनाने से संबंधित बेसिक नॉलेज  मिलेगी,जो म्यूजिक बनाने में आपके बहुत काम में आयेगी.इस पोस्ट में हमने midi keyboard के बारे में a to z इनफार्मेशन प्रदान की है,जिससे आपको मिडी कीबोर्ड से संबंधित सभी सवालों के जबाव मिल जाएँगे.तो आइये शुरुवात करते है.

midi-keyboard-kya-hai-hindi-me-puri-jankari


MIDI KEYBOARD क्या होता है ?


मिडी कीबोर्ड कंप्यूटर कीबोर्ड से एकदम अलग होता है.जिस तरह पियानो में सफ़ेद व काले रंग के button या keys होते है जिसको press करके music produce होता है,उसी तरह midi कीबोर्ड में भी black and white keys होती है.लेकिन यह इससे भी अलग होता है.मिडी कीबोर्ड में keys को दबाकर जो म्यूजिक produce किया जाता है या धुन बनाई जाती है वो इसमें सुनाई नहीं देती है क्योकि इसमें स्पीकर नहीं होता है.इसको कंप्यूटर या लैपटॉप से कनेक्ट किया जाता है,फिर इससे बनी गयी धुन कंप्यूटर या लैपटॉप स्पीकर्स से सुनाई देती है.

मान लीजिये कि यदि आपने  computer में किसी music सॉफ्टवेयर से या digital audio workstation से music produce करना है,तो आपको इससे एक midi keyboard कनेक्ट करना होगा.और तब आप जब midi keyboard से किसी key को प्रेस करेगे तो उस midi keyboard द्वारा midi signal digital audio workstation तक transfer किये जायेगे.और जब वह music सॉफ्टवेयर उस transfer किये गये midi signal को प्राप्त करेगा तो वह उसको हमारे computer के sound कार्ड तक भेजेगा.जिससे हमारे computer system में एक प्रोसेस होगी,और हमारे computer के स्पीकर से audio हमे सुनेगा.

यानि की midi keyboard से हम म्यूजिक को midi signal के द्वारा produce करके उसको आगे किसी system द्वारा प्राप्त करते है,जिसमे midi signal को audio में produce करने की क्षमता होती है,ज़्यादातर digital audio workstation midi support करते है.अब इस knowledge को प्राप्त करके भी आपके मन में बहुत सारे सवाल आ रहे होंगे.आप चिंता मत करे,आपको सभी सवालों के जबाव मिलेंगे,बस आप इस पोस्ट को आगे भी पढ़े.

MIDI keyboard का इस्तेमाल क्यों करते है ?


आपके मन में यह भी सवाल ज़रूर आया होगा.तो चलिए इस सवाल का जबाव प्राप्त करते है.हम अपने computer में digital audio workstation का इस्तेमाल करके song रिकॉर्डिंग ,मिक्सिंग आदि करते है,लेकिन यदि आपने इस बात पर ध्यान दिया है की song रिकॉर्डिंग में आप किस प्रकार instruments sound भी add कर सकते है.तो आपको इसका जबाव पता होगा.daw यानि की म्यूजिक softwares में जब हमे किसी भी instrument का sound digital तरीके से produce करना होता है,तो हमे उसका vst plugin डाउनलोड करना होता है,और फिर उसको daw में add करना होता है,हम vst plugin के द्वारा किसी भी म्यूजिक instrument को digital तरीके से यानि की virtual इस्तेमाल कर सकते है.


यानि की vst plugin या virtual instruments को use करने के लिए हमे midi keyboard की ज़रूरत होती है,जिससे instruments से संबंधित धुन बनाई जा सके.मान लीजिये की आप किसी song project पर काम कर रहे है,जिसमे आपको बांसुरी की भी धवनि चाहिए,तब आपको इन्टरनेट से किसी music instrument साईट से बांसुरी का vst plugin डाउनलोड करना होता है.और इस plugin को अपने DAW म्यूजिक सॉफ्टवेयर में add करना होता है.


फिर आप जब अपने म्यूजिक सॉफ्टवेयर को open करेंगे तो आपको इसमें बांसुरी का vst plugin add करना है,और अपने midi keyboard को इससे कनेक्ट करना है,अब आप जब midi keyboard की keys को लयबद्ध तरीके से प्रेस करेगे  तो आपके digital audio production सॉफ्टवेयर द्वारा बांसुरी की धवनि digital रूप में produce होगी.यानि की यदि आप अपने music production प्रोजेक्ट्स में किसी भी virtual instrument को प्ले करना चाहते है,मतलब की virtual तरीके से म्यूजिक instrument की audio produce करना चाहते है तो आपको midi keyboard की ज़रूरत होती है.इसी कारण music production work में midi keyboard का इस्तेमाल किया जाता है.

मिडी कीबोर्ड के भाग ( Parts of Midi Keyboard )


आप इसका नाम सुनकर इसके बारे में यह अंदाजा लगा सकते है की यह एक keyboard के रूप में होता है,लेकिन इसमें कोनसे part होते है इसकी जानकारी नीचे दी गयी है.


Keys --- इसमें आपको keys मिलती है,जिसमे कुछ काले रंग की और कुछ white रंग की होती है.जिनको दबाकर ही audio produce किया जाता है.midi keyboard में keys इसके केटेगरी के हिसाब से होती है,यानि की 25 keys,32keys,49 keys,61 keys,88 keys वाले midi keyboard मिलते है,यानि की आप अपने हिसाब से midi keyboard buy कर सकते है.


Controller button --  इसमें आपको midi signal की quality को control में करने व audio effects EQ आदि को अपने हिसाब से सेट करने में कुछ button,fader,knobs,pads दिए गये होते है,जिनके द्वारा आपके म्यूजिक project की ज़रूरत के हिसाब से आप midi signal को मैनेज कर सके.इससे pitch bend ,audio signal का modulation आदि सेट कर सकते है.


Cabels --  इसमें आपको cabels भी मिलती है,जिसके द्वारा midi keyboard को audio डिवाइस,audio interface आदि के साथ कनेक्ट किया जाता है.

मिडी कीबोर्ड का इस्तेमाल कैसे करे ( How Use Midi Keyboard )


midi keyboard का इस्तेमाल करने के लिए आपको midi keyboard को अपने computer या किसी or midi supported डिवाइस से कनेक्ट करना होगा.और आपको digital audio workstation में vst plugin को सेलेक्ट करके,midi keyboard से music produce करना होगा.


मिडी कीबोर्ड को कनेक्ट कैसे करे --

जब भी हम midi keyboard को buy करते है,तो आपको इसके बॉक्स में cabels मिलती है,ज़्यादातर midi keyboard में usb port वाली तार होती है,जिसका एक सिरा midi keyboard से कनेक्ट करना होता है,और दूसरा सिरा आप अपने computer या लैपटॉप के usb पोर्ट में कनेक्ट कर सकते है.इस प्रकार के midi keyboard usb powered midi keyboard कहलाते है,क्योकि इनको चलाने के लिए हमारे computer या लैपटॉप के usb पोर्ट से मिलने वाली power ही काफी होती है.इसके लिए कुछ ज्यादा equipment खरीदने की ज़रूरत नहीं होती है.आप इस प्रकार के midi keyboard को केवल एक usb केबल के द्वारा अपने computer या लैपटॉप के साथ कनेक्ट कर सकते है.कुछ midi keyboard controller में midi 5 pin केबल होती है.जिसके द्वारा उनको कनेक्ट किया जाता है.

Cost Of Midi keyboard ( मिडी कीबोर्ड्स का मूल्य कितना होता है ) --


यह भी सबसे ज्यादा important सवाल है,क्योकि बहुत से midi keyboard market में उपलब्ध है.midi keyboard का प्राइस लगभग 3000 रूपये से शुरू होता है,और इसकी quality व फंक्शन features के साथ इसका price बढ़ता जाता है.जितने ज्यादा अच्छे फंक्शन व quality होगी,उतनी ही midi keyboard की price अधिक होगी.यदि आप home music रिकॉर्डिंग स्टूडियो ,या low बजट म्यूजिक रिकॉर्डिंग स्टूडियो खोलना चाहते है तो हम आपको सलाह देते है की आपको सस्ते व लगभग 32 keys वाले midi keyboard से ही music production की शुरुवात करनी चाहिए.


मिडी कीबोर्ड किस कंपनी का बेस्ट होगा ---


यह आपकी ज़रूरत के हिसाब से तय होता है.samson कंपनी के keyboard काफी अच्छे होते है,और इनका price भी ठीक होता है,M-Audio कंपनी के midi keyboard भी अपनी quality के कारण जाने जाते है.akai कंपनी के भी midi keyboard भी काफी अच्छे होते है.लेकिन हम आपको किसी कंपनी विशेष से midi keyboard खरीदने के लिए नहीं कहना चाहते ,क्योकि आप अपनी मर्ज़ी से तथा अपने हिसाब से किसी भी कंपनी का midi keyboard खरीद सकते है,क्योकि यदि आप सफल होना चाहते है तो इसके लिए आपकी मेहनत ज़रूरी होती है,और कुछ नहीं.


तो हम आशा करते है की आपको आज की पोस्ट अच्छी लगी होगी.यदि आप म्यूजिक बनाने से संबंधित फ्री टिप्स व इनफार्मेशन प्राप्त करना चाहते है तो आप नीचे दिए गये Newsletter को ज़रूर सब्सक्राइब कर ले,जिससे आपको email भेज कर music बनाने से संबंधित updates भेजी जा सके.आप इस पोस्ट के संबंध में अपने विचार हमसे कमेंट रूप में ज़रूर साँझा कर सकते है.आज की पोस्ट Midi keyboard क्या होता है,मिडी कीबोर्ड की हिन्दी जानकारी को social media प्लेटफ़ॉर्म पर शेयर करना न भूले.हमारा फेसबुक पेज भी लाइक ज़रूर करे.
--
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


4 comments:

  1. Vst plug कैसे प्राप्त करते हैं?
    इन्हें सॉफ्टवेयर पर एक्टिव करने का तरीका क्या है?

    ReplyDelete
    Replies
    1. Free SITE है। आप इंटरनेट पर Free VST Plugin सर्च करे।

      Delete

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।