ब्लॉगर होना कोई आम बात नहीं,जानिये क्यों ?

सबसे पहले जो भी यह पोस्ट पढ़ रहा है,उसको मेरी व हमारे Amojeet ब्लॉग की तरफ से सलाम। सलाम इसलिए क्योकि यदि आप यह पोस्ट पढ़ रहे है तो ज़रूर आपका Blogging से कोई Link होगा या तो आप New Blogger होंगे या Experience ब्लॉगर। देखिये ब्लॉगिंग करना कोई आसान काम नहीं है ओर न ही ब्लॉगर होना कोई आम बात है,यदि आप कुछ पिछले कुछ सालो से या 8 - 10 महीनो से ब्लॉगिंग कर रहे है तो आपमे कुछ खास है ओर क्या खास है इस पोस्ट में मैं इसी बात की जानकारी देने वाला हूँ।

एक ब्लॉग पोस्ट लिखने के लिए 3 से 5 घंटे का समय लगता है,केवल समय ही नहीं जिस टॉपिक पर ब्लॉग पोस्ट लिखनी है उसकी जानकारी भी होनी चाहिए ओर जानकारी इकठी करने में जो समय लगता है वह अलग होता है। फिर कहीं जाकर Blog Post Publish होती है। लेकिन अब पोस्ट को पढ़ने वाला भी कोई चाहिए,यानि की Traffic या Visitors, या फिर हिन्दी में पाठक कहना उचित होगा।

blogger-hona-koi-aam-baat-nahi-hai


लेकिन इसी Traffic के चक्कर में कुछ लोग ब्लॉगिंग को अलविदा कह देते है,क्योकि किसी नये ब्लॉग को Traffic मिलने में कुछ समय लगता है, इसी समय असली ब्लॉगर की परीक्षा होती है। इस समय की तुलना किसी नए डॉक्टर से की जा सकती है जो अपनी Medical Life में First Operation करता है। अपने पहले किसी मरीज का Operation करते वक़्त नए डॉक्टर को जो कठिनाईया आती है,उस पर जो दबाव होता है,ठीक उसी तरह का दबाव किसी भी नए ब्लॉगर पर होता है,लेकिन जो इस दबाव को सहन करके अपनी मेहनत जारी रखता है उसे अनुभव प्राप्त होता है।

ओर अनुभव कोई 1 दिन का खेल नहीं है, एक डॉक्टर जो 200 Operation कर चुका है,लेकिन वही एक Doctor जो 400 ऑपरेशन कर चुका है उसका अनुभव पिछले डॉक्टर की तुलना में अधिक है। ऐसा ही ब्लॉगर के साथ होता है,जो वह नयी पोस्ट लिखता है वो किसी ऑपरेशन से कम नहीं होती है। जितनी ज़्यादा वह Post लिखता है उतना उसे अनुभव प्राप्त होता है। इसी कारण जो अनुभवी ब्लॉगर होते है,उनसे किसी नये ब्लॉगर को अपनी तुलना नहीं करनी चाहिए। लेकिन केवल ऑपरेशन करने से,मेरा मतलब है की ज़्यादा से ज़्यादा Blog Post लिखने से आपको अनुभव तो प्राप्त होता है,लेकिन यह भी बहुत मायने रखता है की आप उस कार्य को करने में कितने निपुण हो चुके है। यानि की आपकी Success Rate क्या है।


ब्लॉगिंग में Success Rate से मतलब है की आप जो भी काम अपने ब्लॉग के लिए कर रहे है जैसे की ब्लॉग पोस्ट लिखना,Search Engine Optimization,या फिर Traffic बढ़ाने के प्रयास करना वो सफल हो रहे है या नहीं। बस Blogging में आपका Experience व Success Rate बहुत मायने रखता है। लेकिन हर कोई यह काम नहीं कर सकता है,क्योकि ज़्यादातर लोग जो ब्लॉगिंग शुरू करते है वह Experience प्राप्त नहीं करना चाहते केवल Adsense Earning करना चाहते है,ओर Success Rate पर ध्यान देने की बजाय जो लोग Earning पर ध्यान देते है वो ब्लॉगिंग करना सीख नहीं पाते है।




लेकिन यदि आपको Experience + Success Rate प्राप्त हो चुका है या आप इसकी प्राप्ति के लिए मेहनत कर रहे है,तो आप में कुछ खास है क्योकि आप Blogging करना सीख रहे है,लेकिन वो खास बात उन हजारो लोगो में नहीं है जो कुछ महीनो तक ब्लॉग पोस्ट लिखने के बाद ब्लॉगिंग को अलविदा कह देते है।

इस कारण जो Blogger व Blogging करने को आम बात कहते है उन्हे गलतफहमी होती है। उन्हे एक सच्चे ब्लॉगर व सच्ची Blogging की जानकारी नहीं है,वह नहीं जानते की जब कोई पाठक किसी ब्लॉग पोस्ट को पढ़कर खुश होता है,या उसे कोई नयी जानकारी प्राप्त होती है तो उस वक़्त उस Blog को बनाने का सपना सरोकार हो जाता है जो एक ब्लॉगर अपने ब्लॉग के प्रति रखता है। ओर रही बात Earning की तो वह भी धीरे - धीरे शुरू हो ही जाती है।

यानि की आप उन लोगो से बहुत खास है जो ब्लॉगिंग को कुछ महीने तक करने के बाद अलविदा कह देते है। एक ब्लॉगर क्या होता है,आप मेरी इन शायरी से समझ सकते है।

"जब रात - दिन एक किया जाता है किसी काम पर
तब उस काम को करने वाला एक दिन पहुँचता है ऊँचे मुकाम पर "


"रात गुजरती रहती है,
लेकिन नदी मेहनत की बहती है,
मेरी मेहनत लोगो के व्यंग्य सहती है,
मुझे पागल दुनिया कहती है "


" यादविन्द्र तू चुप कर,बस बाते दुनिया की सुन ले
यह दुनिया भटकाती है,तू खुद मार्ग अपना चुन ले,
तू व्यंग्यों की ठंड को सहने के लिए
मेहनत का स्वेटर बुन ले "

यदि मैं खुद की बात करू तो मुझे पहला ब्लॉग बनाने से लेकर अब तक लगभग ब्लॉगिंग करते हुये तकरीबन 16 महीने हो गये है इसी बीच मैंने अपने 2 ब्लॉग बनाकर डिलीट भी कर दिये शायद निराशा के कारण,लेकिन अब फिर एक नया ब्लॉग बनाया ओर ब्लॉगिंग शुरू कर दी है। क्योकि अब Blogging के बिना रहा नहीं जाता है। अब मेरा बस यही प्रयास है की मैं अपने ब्लॉग को ज़िंदा रखू। मैं अभी Blogging को ज़्यादा समय नहीं दे पा रहा हूँ क्योकि अभी मैं B.sc Final Year का Student हूँ। इस पोस्ट को लिखने का मेरा मकसद यह है की जो लोग Blogger व Blogging को आसान समझते है उनको जबाव देना व उनका वहम दूर करना।


आप सभी को भी मैं यही कहना चाहता हूँ की आप अपनी मेहनत जारी रखे। क्योकि आपकी मेहनत ही आपका हथियार है। अपने Blogger होने पर गर्व महसूस करे। Feel Proud Because You Are A Blogger। Thanks For Read This Post। पोस्ट से संबंधित अपनी राय कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे। अलविदा।
-*-

जानकारी अच्छी लगी है तो Facebook Page Like जरूर करे

Share This Post :-


4 comments:

  1. Nice post ..Mujhe bhi ek din esa lga tha ki me ab blogging chhod du ..Lekin mujhse rha nhi gya ..Or ab mai bhi daily post karta hun....I love blogging.

    ReplyDelete
  2. Brother aapne sahi kaha hai , blogging karna or khud ko blogger kehlana dono me kafi antar hota hai , or aaj ke samay me sabhi blogging hi kar rahe hai or koi blogger banna nahi chahta.. Great post

    ReplyDelete

आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखे,यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट करे व उत्तर पाये ।